Tuesday, April 25, 2017
स्टडी मटेरिल

सामान्य अध्ययन विषयों की बुनियादी समझ करें विकसित

सामान्य अध्ययन विषयों की बुनियादी समझ करें विकसित
अजय अनुराग   
निदेशक, विजडम आइएएस एकेडमी, दिल्ली
- मैं अभी बीडीएस द्वितीय वर्ष की छात्र हूं. मैं आइएएस की तैयारी करना चाहती हूं, लेकिन मैं नहीं जानती कि इसकी तैयारी कैसे शुरू करनी चाहिए? -प्रीति प्रियदर्शी
 
आइएएस परीक्षा की बेहतर शुरुआत इसके सिलेबस और पिछले सालों के प्रश्नपत्रों को समझने से हो सकती है. इसके लिए पढ़ाई की शुरुआत आप एनसीइआरटी की क्लास 9-12 की किताबों से करें, ताकि सभी विषयों की बुनियादी समझ हो सके. उसके बाद नोट्स बनाने और उत्तर लिखने का लगातार अभ्यास करते रहें.
 
-  मेरा ऑनर्स पेपर अकाउंटेंसी है और मैं इसे अपना वैकल्पिक विषय रखना चाहता हू. क्या यह विषय हिंदी माध्यम में अंकदायी है? 
-रजत कुमार
 
आइएएस मुख्य परीक्षा में कॉमर्स विषय उपलब्ध है, लेकिन इसे हिंदी में लिखना कठिन होगा, अतः आप किसी और विषय पर विचार कर सकते हैं.
 
-  मैं पॉलिटिकल साइंस की स्टूडेंट हूं और मुझे आइएएस मुख्य परीक्षा के लिए यही विषय रखना है. तो क्या मेरा चयन सही है? मुझे ये भी जानना है कि मुख्य परीक्षा मे कैसे प्रश्न पूछे जाते हैं और क्या मैं इसकी तैयारी ऑनलाइन कर सकती हूं? -प्रीति कुमारी
 
आप इस विषय का चयन कर सकती हैं. मुख्य परीक्षा एक लिखित परीक्षा है, जिसमें विवरणात्मक प्रश्न पूछे जाते हैं. इसका स्तर पोस्ट ग्रेजुएशन का होता है. आप इसकी तैयारी ऑनलाइन भी कर सकती हैं.
 
-  मैं अभी दसवीं क्लास में हूं और मैं आइएएस की तैयारी करना चाहता हूं. मेरी रुचि इतिहास और पॉलिटिकल साइंस में है. क्या ये विषय मदद कर सकते हैं? मुझे आगे के लिए भी सलाह दें. -राजीव कुमार
 
आइएएस परीक्षा में सामान्य अध्ययन के पेपर हैं, जिनमें इन विषयों से सवाल आते हैं, अतः इन्हें पढ़ना जरूरी है. आगे आप आइएएस परीक्षा को ध्यान में रखते हुए ही विषयों का चयन करें.
 
-  मैंने कलीना यूनिवर्सिटी से बीएससी की है. क्या मैं आइएएस की परीक्षा में शामिल हो सकता हूं? -आशीष कुमार
 
आप यूजीसी की वेबसाइट पर जाकर पहले इस यूनिवर्सिटी की मान्यता की जांच करें. यदि यह मान्य होगी, तभी आप इसकी डिग्री के आधार पर परीक्षा में शामिल हो सकते हैं.
 
-  मैं जेपीएससी की तैयारी कर रहा हूं, लेकिन मैंने कोई कोचिंग नहीं ली है. इस परीक्षा में सफलता के लिए क्या करना होगा? -शशि भूषण
इस परीक्षा की तैयारी के लिए प्रतिदिन 7-8 घंटे अध्ययन जरूरी है. कोचिंग क्लासेज अनिवार्य नहीं है, लेकिन अपने किसी सीनियर अथवा शिक्षक से मार्गदर्शन लेते रहें. इस परीक्षा में सफलता धैर्य और अभ्यास से ही मिलेगी.