Sunday, November 19, 2017
रिजल्ट्स

जोसा काउंसलिंग के पहले राउंड का रिजल्ट प्रकाशित किया जा चुका है, देश भर के तकनीकी संस्थानों में 6799 सीटें रह गयी हैं खाली

जोसा काउंसलिंग के पहले राउंड का रिजल्ट प्रकाशित किया जा चुका है,  देश भर के तकनीकी संस्थानों में 6799 सीटें रह गयी हैं खाली

रांची. ज्वाइंट सीट एलोकेशन ऑथोरिटी यानी जोसा काउंसलिंग की प्रक्रिया चल रही है. काउंसलिंग के पहले राउंड का रिजल्ट प्रकाशित किया जा चुका है. पहले राउंड की प्रक्रिया पूरी होने के साथ ही जोसा ऑथोरिटी ने आइआइटी, एनआइटी, ट्रिपल आइटी व अन्य तकनीकी संस्थानों के सीट मैट्रिक्स जारी किये हैं. इस सीट मैट्रिक्स के आंकड़े में संस्थानों में मौजूद कुल सीटों की संख्या, विद्यार्थियों के द्वारा नामांकन के लिए स्वीकार की गयी सीटों की संख्या और पहले राउंड की काउंसलिंग के बाद खाली सीटों की संख्या का जिक्र किया गया है. जारी आंकड़ों के अनुसार, देश भर की तमाम तकनीकी संस्थानों में कुल 6799 सीटें खाली रह गयी हैं. इन सीटों को आगे आयोजित होने वाली काउंसलिंग प्रक्रिया से भरा जायेगा.

आइआइटी में 397 सीटें अभी भी खाली   

पहले राउंड की काउंसलिंग के बाद देश की 23 आइआइटी संस्थानों में 397 सीटें अभी भी खाली रह गयी हैं, जबकि यहां कुल सीटों की संख्या 10988 है. वहीं पहले राउंड के बाद 10597 सीटों को विद्यार्थियों ने नामांकन के लिए स्वीकार किया है. वहीं 31 एनआइटी की बात करें तो यहां कुल सीटों की संख्या 17868 है, जिसमें 13800 विभिन्न ब्रांच की सीटों को उम्मीदवारों ने नामांकन के लिए स्वीकार किया. यहां खाली सीटों की संख्या 4068 है. अन्य तकनीकी संस्थानों में 7352 सीटें हैं, जिसमें से नामांकन के लिए 5018 सीटें विद्यार्थियों ने चुनीं, जबकि 2334 सीटें खाली रह गयी हैं.  

देश भर की आइआइटी के ब्रांच में बची सीटें

सीएसइ 48

इइ 38

सिविल 29

मैकेनिकल 43

अन्य 239

बीआइटी मेसरा : विभिन्न ब्रांच में 189 सीट खाली 

जीएफटीआइ के दायरे में आने वाली राज्य की बेहतरीन तकनीकी संस्थानों में एक बिरला इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी के विभिन्न ब्रांच को मिला कर 189 सीट खाली रह गयी है. यह स्टेटस पहले राउंड की काउंसलिंग  के बाद जारी सीट मैट्रिक्स के अनुसार है. यहां के बायोटेक्नोलॉजी, केमिकल इंजीनियरिंग, सिविल इंजीनियरिंग, कंप्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग, इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्यूनिकेशन इंजीनियरिंग, मैकेनिकल, इलेक्ट्रिकल एंड इलेक्ट्रॉनिक्स, प्रोडक्शन, आइटी, प्लास्टिक पॉलिमर व आर्किटेक्चर ऐसे ब्रांच हैं, जहां सीटें खाली हैं.

खाली सीटों की संख्या

बायोटेक्नोलॉजी - 28 

केमिकल इंजीनियरिंग -  13    

सिविल इंजीनियरिंग - 10 

कंप्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग - 19

इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्यूनिकेशन इंजीनियरिंग - 25 

मैकेनिकल - 27

इलेक्ट्रिकल एंड इलेक्ट्रॉनिक्स - 10 

प्रोडक्शन - 16  

आइटी - 9 

प्लास्टिक पॉलिमर - 16 

आर्किटेक्चर  -16

एनआइटी जमशेदपुर में 79 सीटें खाली 

पहले राउंड की काउंसलिंग प्रक्रिया पूरी होने के बाद नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी जमशेदपुर में 79 सीटें खाली रह गयी हैं. खाली बची सीटें सिविल इंजीनियरिंग, कंप्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग, मैकेनिकल, इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्यूनिकेशन इंजीनियरिंग, मैटेलर्जिकल एंड मैटेरियल इंजीनियरिंग, प्रोडक्शन एंड इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग व इलेक्ट्रिकल एंड इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग ब्रांच में हैं. 

खाली सीटों की संख्या 

सिविल - 10

सीएसइ - 12

इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्यूनिकेशन - 12

मैकेनिकल - 7

मैटेलर्जिकल एंड मैटेरियल इंजीनियरिंग - 15

प्रोडक्शन एंड इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग - 11

इलेक्ट्रिकल एंड इलेक्ट्रॉनिक्स - 12

ट्रिपल आइटी व निफ्ट हटिया में भी सीटें खाली

राज्य की एकमात्र ट्रिपल आइटी की कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग व इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्यूनिकेशन ब्रांच में भी सीटें खाली हैं. यहां क्रम से सीएसइ में 20 व इसीइ में 13 सीटें खाली हैं. वहीं निफ्ट हटिया की बात करें तो मैटेलर्जिकल एंड मैटेरियल इंजीनियरिंग में 14 व मैन्यफैक्चरिंग विभाग में 27 सीटें खाली हैं.