Sunday, December 17, 2017
ओपिनियन

कैरियर चयन में दुविधा हो तो दिल की सुनें

कैरियर चयन में दुविधा हो तो दिल की सुनें

दसवीं की परीक्षा के बाद क्या? यह सवाल अकसर छात्र-छात्राओं को परेशान करता है. ऐसे में जरूरी है कि सही दिशा की ओर चला जाये. दसवीं के बाद लोग अपने कैरियर को दिशा देने लगते हैं, कोई डॉक्टर बनना चाहता है तो कोई इंजीनियर, तो साइंटिस्ट. दरअसल 10वीं के यह तो तय हो ही जाता है कि हमें किस स्ट्रीम में अपना कैरियर बनाना है. 10वीं के बाद की शिक्षा साइंस, आर्ट्‌स और कॉमर्स के बीच बंट जाती है. इसलिए एक तरह से यह तो तय हो ही जाता है कि हम किस क्षेत्र में अपना कैरियर बनायेंगे. इसलिए यह समय बहुत महत्वपूर्ण है और हर किसी को अपनी क्षमता और गुणों के अनुसार अपने क्षेत्र का चयन करना चाहिए.

आपके लिए यहां कुछ टिप्स दिये जा रहे हैं, जिनकी मदद से आप अपने कैरियर को नयी दिशा दे सकते हैं:-

-आमतौर पर यह देखा जाता है कि छात्र-छात्राएं उसी फील्ड में दाखिला ले लेते हैं, जहां उनके दोस्तों ने दाखिला लिया हो, लेकिन यह प्रवृत्ति सही नहीं है. हमें भेड़चाल में नहीं पड़ना चाहिए, क्योंकि इसके  गंभीर परिणाम भविष्य में भुगतने पड़ सकते हैं. कई बार गलत चुनाव के कारण छात्र-छात्राओं को क्लास रिपीट करना पड़ता है. ऐसी स्थिति से बचने के लिए यह जरूरी है कि समय रहते अपने क्षेत्र का चयन कर लें.
 
- कैरियर का चयन करते हुए यह जरूरी है कि आप यह तय कर लें कि जीवन में आपको करना क्या है. इसके लिए सर्वप्रथम अपना लक्ष्य निर्धारित कर लें. आपको साइंस, आर्ट्‌स या फिर कॉमर्स किस स्ट्रीम में जाना है, यह आप तय करें. अपने अभिभावकों और साथियों की बात सुनें जरूर, लेकिन तय आप खुद करें.

-कैरियर का चुनाव करते वक्त अगर आप पेशेवर लोगों की सलाह लेंगे तो वह आपके लिए बहुत फायदेमंद होगा. आप उनके साथ थोड़ा समय बिताएं, उनके काम को समझने की कोशिश करें, यह कैरियर का चयन करने में आपके लिए काफी मददगार साबित हो सकता है.

-शिक्षक आपके जीवन का अभिन्न हिस्सा होते हैं, वे आपकी क्षमता और गुणों से अच्छी तरह वाकिफ भी होते हैं, इसलिए कैरियर स्ट्रीम चुनते वक्त उनकी राय जरूर दें.

- अगर दुविधा बहुत अधिक है, तो फिर यशराज फिल्मस के हीरो की तरह दिल की सुनें और आप देखेंगे कि आप सही साबित हुए. कैरियर चुनते वक्त यह बात बहुत मायने रखती है. स्टीव जॉब्स ने कहा भी है कि अपने दिल और मन की बात पर चलने का प्रयास करें, क्योंकि यही वो हैं, जिन्हें सच में पता है कि आप बनना क्या चाहते हैं.