Monday, November 19, 2018
ओपिनियन

छात्रों का करियर मार्गदर्शन कर रहा स्टार्टअप पर्सपेक्टिको

छात्रों का करियर मार्गदर्शन कर रहा स्टार्टअप पर्सपेक्टिको

 

जमाना उन्‍नत तकनीक और बढ़ती प्रतिस्‍पर्धा का है. अपने करियर को लेकर अक्सर छात्रों के बीच असमंजस की स्थिति होती है. छात्रों को इस मुश्किल से निकालने के लिए स्टार्टअप पर्सपेक्टिको की ओर से शिक्षक दिवस के अवसर पर एक मुहिम शुरू की गयी है. स्टार्टअप पर्सपेक्टिको के संस्थापक निखिल चेनानी ने कहा कि इसके तहत विभिन्‍न प्रतिष्ठित शिक्षण संस्‍थानों एवं बहुराष्ट्रीय कंपनियां के फ्रेशर्स को सामूहिक रूप से बुलाकर उनके अनुभवों से नए छात्रों का मार्गदर्शन किया जाता है, ताकि वे अपने करियर को लेकर असमंजस में न रहें.

सही समय पर सही फैसला लेने में मदद करना

प्रतिष्ठित कंपनी नोमुरा छोड़कर स्टार्टअप पर्सपेक्टिको की शुरूआत करने वाले निखिल चेनानी के अनुसार यह स्टार्टअप छात्रों के बीच करियर चयन को लेकर स्पष्ट राय बनाने का काम कर रहा है, ताकि वे सही समय पर सही फैसला ले सकें. उन्‍होंने बताया कि स्टार्टअप पर्सपेक्टिको का मुख्‍य उद्देश्‍य देशभर के छात्रों का उनकी क्षमता के हिसाब से करियर ऑप्‍शन चुनने में मदद करना और कंपनी में इंटरव्‍यू फेस करने के लिए तैयार करना.

चार लोगों की टीम से हुई शुरुआत

चार लोगों से इस स्टार्टअप पर्सपेक्टिको की शुरुआत की गयी. आज 50 लोगों के परिश्रम से देशभर में छात्रों के बीच करियर और नौकरी को लेकर पल रहे भ्रम को दूर करने और उनके लिए सही विकल्‍प तलाशने में मदद करने का काम किया जा रहा है.

सामाजिक दबाव में न करें गलत करियर का चयन

स्टार्टअप पर्सपेक्टिको छात्रों को समझदारी के साथ अपने करियर से जुड़े निर्णय लेने में मददगार है. इसका मानना है कि नये छात्रों को सामाजिक दबाव में आकर गलत करियर चुनकर खुद का मनोबल नहीं गिराना चाहिए.