Monday, May 29, 2017
एमबीए

कैरियर की बेमिसाल राह हॉस्पिटेलिटी और होटल एडमिनिस्ट्रेशन

कैरियर की बेमिसाल राह हॉस्पिटेलिटी और होटल एडमिनिस्ट्रेशन
पर्यटकों के िलए इ-वीजा की सुविधा लागू होने के बाद बाहर से आनेवाले पर्यटकों के संख्या में तेजी से वृद्धि हुई है. पिछले माह यानी नवंबर में इ-वीजा पर 1,36,876 विदेशी पर्यटक आये, जो इस अवधि में आनेवाले पर्यटकों की संख्या में 63.9 प्रतिशत अधिक हैं. केंद्र सरकार 155 देशों से आनेवाले नागरिकों के लिए इ-वीजा की सुविधा दे रही है.
 
माना जा रहा है कि इस साल विदेशी पर्यटकों की संख्या आठ लाख पहुंच सकती है. देसी-विदेशी पर्यटकों की बढ़ती संख्या हॉस्पिटेलिटी और होटल एडमिनिस्ट्रेशन सेक्टर के विकास की गारंटी है. हॉस्पिटेलिटी और होटल, रेस्तरां का बढ़ता बाजार इस सेक्टर में बड़ी संख्या में प्रोफेशनल्स को आकर्षित कर रहा है. प्राइवेट सेक्टर के अलावा कई सरकारी और सार्वजनिक क्षेत्र की संस्थाओं में भी प्रोफेशनल्स के लिए अच्छा कैरियर बनाने का मौका होता है.
 
वैसे तो इस क्षेत्र में आने के लिए स्नातक, परास्नातक, डिप्लोमा और सर्टिफिकेट जैसे कई कोर्स किये जा सकते हैं. लेकिन बीएससी, एमएससी जैसे डिग्री कोर्स करने के बाद कैरियर का आगाज शानदार तरीके से होता है. बारहवीं कर चुके छात्रों के लिए नेशनल काउंसिल फॉर होटल मैनेजमेंट एंड कैटरिंग टेक्नोलॉजी बीएससी (हॉस्पिटेलिटी एंड होटल एडमिनिस्ट्रेशन) प्रोग्राम में प्रवेश के लिए अखिल भारतीय स्तर पर संयुक्त प्रवेश परीक्षा आयोजित करता है. इस बार यह परीक्षा 29 अप्रैल, 2016 को आयोजित की जायेगी.
 
एनसीएचएमसीटी द्वारा संचालित 
 
होते हैं कई अहम कोर्स
 
नेशनल काउंसिल फॉर होटल मैनेजमेंट एंड कैटरिंग टेक्नोलॉजी पर्यटन मंत्रालय, भारत सरकार के अधीन एक स्वायत्त संस्था है. काउंसिल देश भर के कई सरकारी व गैर सरकारी संस्थानों में होटल मैनेजमेंट से संबंधित पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए अखिल भारतीय स्तर प्रवेश परीक्षा आयोजित करता है. 
 
एनसीएचएमसीटी द्वारा देशभर में 19 केंद्रीय होटल मैनेजमेंट संस्थानों, 19 राज्य सरकारों के तहत आनेवाले होटल मैनेजमेंट संस्थानों, एक सार्वजनिक क्षेत्र के संस्थान और 14 निजी होटल मैनेजमेंट संस्थानों में विभिन्न पाठ्यक्रम संचालित किये जाते हैं.
 
जेइइ-2017 से मिलेगा बीएससी-हॉस्पिटेलिटी में प्रवेश
 
बैचलर ऑफ साइंस इन हॉस्पिटेलिटी एंड होटल एडमिनिस्ट्रेशन नेशनल काउंसिल फॉर होटल मैनेजमेंट और इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय द्वारा संयुक्त रूप से संचालित होनेवाला पाठ्यक्रम है. तीन वर्षीय (छह सेमेस्टर) इस कोर्स के तहत हॉस्पिटेलिटी सेक्टर के अनुरूप से स्किल, नॉलेज और एटीट्यूड पर विशेष रूप से फोकस किया जाता है. फूड प्रोड्क्शन, बेवरेज सर्विस, फ्रंट ऑफिस ऑपरेशन और हाउस कीपिंग जैसे ऑपरेशनल एरिया में छात्रों को विशेष रूप से प्रशिक्षित किया जाता है. इस कोर्स के तहत होटल अकाउंटेंसी, फूड सेफ्टी एंड क्वालिटी, ह्यूमन रिसोर्स मैनेजमेंट, फैसिलिटी प्लानिंग, फाइनेंशियल मैनेजमेंट, स्ट्रेटेजिक मैनेजमेंट , टूरिज्म मार्केटिंग एंड मैनेजमेंट में प्रबंधकीय क्षमता को विकसित किया जाता है.
 
एनसीएचएमसीटी जेइइ-2017 के लिए 12वीं होना जरूरी  
 
संयुक्त प्रवेश परीक्षा-2017 में शामिल होने के लिए अभ्यर्थी का अंगरेजी विषय के साथ 12वीं पास होना जरूरी है. बारहवीं की परीक्षा में शामिल हो रहे छात्र भी जेइइ -2017 के लिए आवेदन कर सकते हैं, बशर्ते 30 सितंबर, 2017 से पहले अर्हता हासिल कर लेने का प्रमाण प्रस्तुत करना होगा. इसके अलावा 1 जुलाई, 2017 को आवेदक की आयु 22 वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए. अनुसूचित जाति/ अनुसूचित जनजाति और दिव्यांग श्रेणी के तहत आनेवाले छात्रों को ऊपरी आयु सीमा में नियमानुसार छूट प्रदान की जायेगी.
 
एनसीएचएमसीटी जेइइ-2017
 
आवेदन की अंतिम तिथि : 14 अप्रैल, 2017
प्रवेश परीक्षा तिथि : 29 अप्रैल, 2017 (सुबह 10 बजे से 1 बजे तक)
आयु सीमा : 22 वर्ष (01.07.2017) (एससी/ एसटी के लिए 25 वर्ष)
विवरण देखें : https://applyadmission.net/nchmjee2017.