Tuesday, August 21, 2018
इंजीनियरिंग

JEE एडवांस्ड 2018 पर GST का असर, जानिये आवेदकों को अब कितना करना होगा भुगतान

JEE एडवांस्ड 2018 पर GST का असर, जानिये आवेदकों को अब कितना करना होगा भुगतान

 

खान-पान एवं अन्य उत्पादों पर लगने वाला जीएसटी (गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स) अब प्रतियोगिता परीक्षाओं पर भी लग रहा है. छात्रों की प्रवेश परीक्षा पर इसका असर दिखने लगा है. देश के भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थानों (आईआईटी) के विभिन्न स्नातक, इंटिग्रेटेड मास्टर्स और डुअल डिग्री पाठ्यक्रमों में दाखिले के लिए 20 मई 2018 को होने वाली संयुक्त प्रवेश परीक्षा (जेईई) एडवांस्ड के लिए आवेदन करने वाले उम्मीदवारों को अब अधिक शुल्क देना होगा.


अब यह होगा शुल्क
सामान्य श्रेणी के अभ्यर्थी की रजिस्ट्रेशन फीस 2400 रुपये थी, जिसे बढ़ाकर 2600 रुपये कर दिया गया है. इसके अलावा जीएसटी अलग से देना होगा. लड़कियों, दिव्यांगों और एससी-एसटी के लिए अभी तक फीस 1200 रुपये थी, लेकिन अब इन्हें 1300 रुपये देने होंगे. फीस के अलावा जीएसटी भी देना होगा. जेईई एडवांस्ड-2018 आयोजन समिति के अध्यक्ष के अनुसार जेईई एडवांस्ड 2018 के लिए आवेदन करने वाले उम्मीदवारों को 2600 रुपए चुकाने होंगे. इसके अलावा उन्हें इस पर लगने वाला जीएसटी भी देना होगा. उन्होंने बताया कि पिछली बार इस परीक्षा के आवेदकों से 2400 रुपए शुल्क के रूप में लिए गए थे.

यह भी पढ़ें 
देश में पहली बार केंद्रीय विद्यालयों की होगी रैंकिंग, जानिये किन पारामीटर्स पर होगा मूल्यांकन

2,24000 अभ्यर्थी देंगे परीक्षा
जेईई एडवांस्ड 2018 में कुल 2,24000 अभ्यर्थी परीक्षा दे पाएंगे. वर्ष 2017 में हुई परीक्षा के 2,20,000 अभ्यर्थियों ने पंजीकरण कराया था. परीक्षा आयोजन समिति के अध्यक्ष के अनुसार जेईई मेन परीक्षा के पेपर एक में सकारात्मक अंक लाने वाले शीर्ष 2,24,000 उम्मीदवारों को यह मौका दिया जाएगा. इसमें 107464 सीटें अनारक्षित होंगी. 1 अक्तूबर 1993 को और उसके बाद पैदा हुए विद्यार्थी ही आवेदन के लिए योग्य होंगे. इसके अलावा जेईई एडवांस्ड 2017 देने वाले अभ्यर्थी भी इस परीक्षा के लिए योग्य हैं.

जेईई एडवांस्ड की ऑनलाइन परीक्षा 20 मई को
जेईई एडवांस्ड 2018 का आयोजन आईआईटी कानपुर कर रहा है. परीक्षा से संबंधित सभी जानकारियां उपलब्ध कराने के लिए वेबसाइट शुरू हो गई है. 20 मई को दो पालियों में आयोजित होने वाली परीक्षा पूरी तरह से कम्प्यूटर आधारित होगी. इसमें पहला पेपर सुबह 9 बजे से दोपहर 12 बजे तक और दूसरा दोपहर 2 बजे से शाम 5 बजे तक होगा. सभी उम्मीदवारों के लिए दोनों परीक्षाएं अनिवार्य हैं. परीक्षा की तारीख किसी भी हालत में नहीं बदली जाएगी.

यह भी पढ़ें 
झारखंड- 31 अक्तूबर को होगी प्लस टू शिक्षक नियुक्ति के लिए चयनित अभ्यर्थियों की दूसरी काउंसलिंग

12वीं में कम से कम 75 फीसदी अंक चाहिए
अभ्यर्थी की अधिकतम आयु 24 वर्ष होनी चाहिए (आरक्षित वर्ग के लिए पांच वर्ष की छूट). 12वीं में कम से कम 75 फीसदी अंक होने चाहिए. आरक्षित वर्ग के लिए 65 फीसदी या फिर टॉप-20 पर्सेंटाइल की सूची में शामिल हों.

दो पेपर के बीच दो घंटे का ब्रेक
20 मई को कंप्यूटर आधारित यानी ऑनलाइन होने वाली जेईई एडवांस्ड की परीक्षा में दोनों पेपर एक ही दिन होंगे. परीक्षा दो पालियों में सुबह नौ से दोपहर 12 और दोपहर दो से शाम पांच बजे तक होगी. यानी एक दिन में छात्रों को छह घंटे बैठकर परीक्षा देनी होगी, हालांकि इस बीच छात्रों को दो घंटे का ब्रेक मिलेगा.

यह भी पढ़ें 
कैट-एडमिट कार्ड जारी, 26 नवंबर को होगी परीक्षा