Sunday, September 24, 2017
करंट अफेयर्स

नीट 2017-एडमिशन के लिए आखिरी चरण की काउंसलिंग की समय सीमा सात सितंबर तक बढ़ी

नीट 2017-एडमिशन के लिए आखिरी चरण की काउंसलिंग की समय सीमा सात सितंबर तक बढ़ी

 

सुप्रीम कोर्ट से एनईईटी (नीट) परीक्षा में सफल छात्रों को राहत मिली है. उच्चतम न्यायालय ने डीम्ड विश्वविद्यालयों में वर्ष 2017-18 के लिए एमबीबीएस और बीडीएस पाठयक्रमों में दाखिले के लिए आखिरी चरण की काउंसलिंग की समय सीमा सात सितंबर तक के लिए बढ़ा दी है.

डीम्ड विश्वविद्यालयों के लिए बढ़ाई गयी है समय सीमा

यह समय सीमा सिर्फ डीम्ड विश्वविद्यालयों के लिए ही बढ़ाई गई है. अब इसकी अवधि आगे नहीं बढ़ाई जाएगी. राज्यों में नीट सीटों के लिए मॉप-अप चरण काउंसलिंग का आखिरी स्तर होता है. इस चरण में उन उम्मीदवारों पर विचार किया जाता है जिन्होंने इसके लिए रजिस्ट्रेशन कराया है और पहले के दो चरणों में उन्हें कोई कॉलेज नहीं आवंटित किया गया. इसके मॉप-अप चरण के लिए आखिरी तारीख 31 अगस्त थी.

वेबसाइट पर सूची प्रकाशित करने का आदेश

प्रधान न्यायाधीश न्यायमूर्ति दीपक मिश्रा, न्यायमूर्ति ए एम खानविलकर और न्यायमूर्ति डी वाई चंद्रचूड़ की पीठ ने सक्षम प्राधिकार (स्वास्थ्य सेवा महानिदेशक) को वेबसाइट पर सूची प्रकाशित करने का निर्देश दिया. इसके साथ ही यह ईमेल सभी डीम्ड विश्वविद्यालयों को भेजने को भी कहा गया है.

अब भी खाली हैं 5500 से अधिक सीटें

काउंसलिंग के लिए जिम्मेदार डीजीएचएस ने अदालत को सूचित किया कि विभिन्न् डीम्ड विश्वविद्यालयों में अब भी 5500 से ज्यादा सीटें खाली हैं. ऐसे में अदालत ने निर्देश दिया कि 5500 सीटों को सफल 55,000 छात्रों के पूल से भरा जाना चाहिए ताकि 1:10 के अनुपात को कायम रखा जा सके.