Monday, May 29, 2017
बोर्ड / यूनिवर्सिटीज़

लैब टेक्नीशियन बनने के लिए बीएमएलटी है बेहतर कोर्स

लैब टेक्नीशियन बनने के लिए बीएमएलटी है बेहतर कोर्स
-  मैं 10वीं का छात्र हूं. मेरी साइंस में बहुत रुचि है और मैं लैब टेक्नीशियन बनना चाहता हूं. कृपया मुझे इसके बारे में बताएं. 
- आकाश कुमार
 
मेडिकल लेबोरेटरी टेक्नोलॉजी को क्लिनिकल लेबोरेटरी साइंस भी कहते हैं. यह एलाइड हेल्थ प्रोफेशन है, जिसका काम निदान, उपचार और रोकथाम के लिए क्लिनिकल लेबोरेटरी टेस्ट करना या करने में सहयोग करना है. 
 
इसमें कैरियर बनाने के लिए डिग्री के साथ-साथ कुछ अन्य गुणों का होना भी जरूरी होता है- रिसर्च की क्षमता, सूक्ष्मता के साथ तेजी से काम पूरा करना, तनाव का सामना कर पाना, विश्लेषणात्मक मूल्यांकन कर पाना, तकनीकी व्याख्या/वैज्ञानिक डेटा, प्रयोगशाला इंस्ट्रूमेंटेशन, मेकेनिकल, कंप्यूटर का ज्ञान, आत्मनिर्भरता, लगन, आत्म प्रेरणा. इसमें अच्छे स्टेमिना की भी जरूरत है, क्योंकि देर तक खड़े हो कर काम करना होता है. इसके लिए कुछ कोर्स निम्नलिखित हैं- क्लिनिकल लेबोरेटरी टेक्नोलॉजी में बीएससी. मेडिकल लेबोरेटरी टेक्नोलॉजी में बीएससी. बैचलर ऑफ मेडिकल लेबोरेटरी टेक्नोलॉजी (बीएमएलटी). सर्टिफिकेट कोर्स इन जूनियर लेबोरेटरी टेक्नीशियन. सर्टिफिकेट कोर्स इन लेबोरेटरी टेक्नीशियन/ लैब असिस्टेंट. सर्टिफिकेट कोर्स इन मेडिकल लेबोरेटरी टेक्नोलाॅजी (सीएमएलटी), साइटाेलॉजी
टेक्नीशियन ट्रेनिंग कोर्स.
 
लैब टेक्नीशियन बनने के लिए अच्छा तरीका है कि आप बैचलर इन मेडिकल लैब टेक्नोलाॅजी (बीएमएलटी) में एडमिशन ले लीजिए. इस कोर्स में एडमिशन के लिए 12वीं में बायोलॉजी के साथ 50 प्रतिशत अंक होना जरूरी है.